अपने मनचले आशिक़ को सड़क पर पटक कर पीटा, 6 महीने से कर रहा था परेशान।

ये ख़बर उन लड़कों के लिए है जो लड़कियो की इज्ज़त को खेल समझते हैं। जब भी कोई लड़की घर से बाहर निकलती है तो बहोत से लड़के उसको छेड़ते है उसपर गन्दे एवं अश्लील कमैंट्स करते है। कई बार बाइकर्स लड़की की चुनरी खींच कर उतार देते है और झट से निकल जाते है। सड़क हो या गली लड़की को छेड़ना मानो आवारा लड़को का रोज़ का काम हो गया है। ऐसे में हमारे घर की बहू बेटियां भी सुरक्षित नही है। आखिर कब तक हमारे देश की लड़कियों को चुप रहना होगा कब तक घर से निकलते वक्त मुह पर कपड़ा बांध कर रखना होगा। जाने कब ये समाज सुधरेगा ओर कब लड़कों को लड़कियों की इज्ज़त समझ आएगी । खीर हम आपको एक ऐसी खबर बताने जा रहे है जिससे मनचले आशिक़ों को शर्म आएगी। बात दरसल निफाड तालुका की है। जहाँ छह महीनों से एक मनचला आशिक़ स्कूल की लड़कियो को परेशान कर रहा था उनके साथ छेड़खानी करता था। लेकिन अचूल की लड़कियो ने आखिर कार एक दिन हिम्मत करके उसको सबक सिखाने की ठान ही ली। उन्होंने एक दिन उस लड़के को पीछा करते समय पकड़ लिया और सड़क पर घसीट घसीट के उनको मारा। अब वो लड़का पुलिस के हवाले करदिया गया है।जानिये फिर आगे क्या हुआ...

लड़कियों के हाथों से पिटने वाले लड़के का नाम योगेश पगार है।

योगेश पिछले 6 महीने से लगातार लड़कियों के स्कूल के बाहर खड़ा होकर आने-जाने वाली लड़कियों को ताकता ओर परेशान कर रहा था। योगेश की इस हरकत से परेशान लड़कियों ने शुक्रवार शाम उसे कुछ लोगों की सहायता से पकड़ा और फिर उसकी लात-घूसों और चप्पलों से पिटाई शुरू कर दी|

Loading...

Leave a Reply