इस 25 अगस्त को भगवान गणेश की कृपा पाना चाहते हो तो इसे एक बार जरुर पढ़े…

गणेश चतुर्थी का त्यौहार गणेश जी के जनम दिवस के तौर पर मनाया जाता है। गणेश भगवान का जन्म मध्याह काल में हुआ था इसलिए उनकी पूजा का समय भी मध्याह काल में शुभ होता है। यह त्यौहार हिन्दुओं का धार्मिक त्यौहार है, इस त्यौहार को बड़ी धूम धाम से मनाया जाता है। गणेश भगवान को बुद्धि तथा समृद्धि के देवता के रूप में पूजा जाता है।

भगवान गणेश का जन्म भाद्रपद माह में शुक्ल पक्ष के दौरान हुआ। इस साल गणेश चतुर्थी का पर्व 25 अगस्त से मनाया जायेगा और यह उत्सव 10 दिन बाद अनन्तचतुर्दशी के दिन समाप्त होगा।

हिन्दुओ में कुछ भी शुभ कार्य करने से पहले भगवान् गणेश को याद किया जाता है, क्योकि हिन्दुओ में ऐसा मानना है की भगवान् गणेश रिद्धि, सिद्धि के स्वामी है उन्हें शुभ कार्य करने से पहले पूजने पर शुभ कार्य पूर्ण सफल अच्छे से हो जाता है।

गणेश चतुर्थी के दिन भगवान् गणेशकी प्रतिमा को बड़े धूम धाम से घरो में स्थापित किया जाता है। यह त्यौहार महाराष्ट्र में बहुत धूम धाम से मनाया जाता है।

गणेश चतुर्थी के के दिन सभी भक्त गण उन्हें प्रसन्न करने के लिए पूजा पाठ हवंन करते है। शास्त्रों के अनुसार भगवान् गणेश का दिन बुधवार को माना है, इस दिन भगवान् गणेश की सच्चे मन से पूजा करने से भगवान् गणेश जल्द ही अपनी मुराद पूरी करते है।

यदि आप भी भगवान गणेश की कृपया पाना चाहते है तो करे ये उपाये :-

- बुधवार के दिन सुबह स्नान कर गणेश जी के मंदिर में उन्हें दूर्वा की 11, 21, या 51 गाँठ अर्पित करे।

- बुधवार के दिन अपने घर में श्री गणेश जी की सफ़ेद रंग की मूर्ति स्थापित करे उनकी पूजा करे। ऐसा करने से आपके घर की नकारात्मक ऊर्जा ख़त्म हो जायेगी।

- बुधवार के दिन गणेश जी की पूजा करने के पश्चात इस मन्त्र का विधि-विधान से जाप करे (ऊँ एकदन्ताय विहे वक्रतुण्डाय धीमहि तन्नो दन्तिः प्रचोदयात्)।

ऐसा करने से आपके सारे काम सफल होंगे व रुके हुए काम सुलझ जायेंगे।

Loading...

Leave a Reply