‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ में एंट्री करने से पहले ये काम करते थे इस शो के स्टार्स

फिल्म और टीवी इंडस्ट्री में स्ट्रगल के बारे में तो हम सभी ने सुना है। अमिताभ बच्चन से लेकर शाहरुख खान तक को बड़ा ब्रेक मिलने से पहले स्ट्रगल तो करना ही पड़ा था। हम किसी भी एक्टर को तभी नोटिस करते हैं जब उसने कोई हिट और यादगार रोल किया हो। अक्सर ही एक शो या फिल्म एक्टर की जिंदगी बदल कर रख देता है।

'तारक मेहता का उल्टा चश्मा' भी ऐसा ही एक शो है। शो में दया बेन से लेकर बाघा तक सभी किरदार सेलिब्रिटी बन गए हैं। बच्चों से लेकर बुजुर्गों तक इनके फैंस में शुमार हैं। लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि ये सभी कलाकार इस शो से पहले क्या करते थे? ये सब यहां तक कैसे पहुंचे?

एक बात तो तय है कि लगभग सभी ने इस शो से पहले इन सितारों को कम ही नोटिस किया था। इस शो से पहले क्या करते थे ये लोग?

आइए जानते हैं।

बबिता जी (मुनमुन दत्ता)

बंगाली बाला मुनमुन दत्ता ने पुणे में रहकर अपना कॉलेज पूरा किया है। मुनमुन ने पुणे में रहते हुए कई फैशन शो में हिस्सा लिया है। मुनमुन ने 2004 में ज़ी टीवी के 'हम सब बाराती' से एक्टिंग डेब्यू किया है। मुनमुन ने 'मुंबई एक्सप्रेस' और 'हॉलिडे' फिल्म में भी काम किया है।

(जेठालाल गढ़ा) दिलीप जोशी

दिलीप जोशी ने भी गुजराती थिएटर से एक्टिंग की शुरुआत की थी। दिलीप जोशी ने 1989 में 'मैंने प्यार किया' में नौकर के किरदार से इंडस्ट्री में कदम रखा। उसके बाद 'क्या बात है', 'शुभ मंगल सावधान', 'ये दुनिया रंगीन हैं' जैसे शो और दर्जनों फिल्मों का हिस्सा भी रहे।

दया भाभी (दिशा वकानी)

ड्रामेटिक आर्ट्स में ग्रेजुएट दिशा वकानी ने गुजराती थिएटर से एक्टिंग की शुरुआत की थी। करियर की शुरुआत में दिशा ने 'कमसिन - द अनटच्ड (1997)' जैसी बी ग्रेड फिल्म में भी काम किया था। दिशा, 'देवदास (2002)' और 'जोधा-अकबर' जैसी फिल्मों का भी हिस्सा रही हैं।

अंजलि मेहता (नेहा मेहता)

नेहा मेहता ने अपने कई साल गुजराती थिएटर को दिए। नेहा ने 2001 में ज़ी टीवी के 'डॉलर बहू' शो के साथ टीवी पर कदम रखा। 2002 में आए

'भाभी' ने नेहा को टीवी इंडस्ट्री का जाना पहचाना नाम बना दिया।

Loading...

Leave a Reply