स्तनपान के लिए सही मुद्रा – Best Pose for Breastfeeding

स्तनपान के लिए सही मुद्रा

स्तनपान कराना दुनिया में सबसे स्वाभाविक कामों में से एक है लेकिन इसके लिए सही अभ्यास की जरुरत है। बच्चे को सही तरह से पकड़ना और सहारा देना जिससे वह आरामदायक स्थिति में स्तनपान कर सके इसके लिए धैर्य और समन्वय की जरुरत है। स्तनपान के लिए सही मुद्रा ढूढना आपके लिए और शिशु के स्वास्थ्य के लिए भी बहुत उत्तम और लाभकारी प्रयास है। माँ और बच्चे स्तनपान के लिए प्रतिदिन घंटों एक दूसरे के साथ समय बिताते हैं। यहाँ पर कुछ समय के साथ परीक्षित स्तन पान के आसान हैं जिन्हें एक स्त्री स्तनपान के लिए उपयोग में ला सकती है । साथ साथ  स्तनपान के लिए सही मुद्रा से सम्बंधित कुछ सुझाव भी हैं। 1) पालने की स्थिति में पकड़ यह स्तनपान की पारंपरिक विधि है जिसमे आप शिशु को पालने मे झुलाने की स्थिति में बच्चे को पकड़ती हैं। आप अपने कहानियों को मोड़कर अपने बांह पर शिशु के सिर को रख लेतीं हैं। ऐसी कुर्सी पर बैठ जाएँ जिसके आर्मरेस्ट् हों या ऐसा बिस्तर जिसपर तकिये हों जो आपकी बाहों को सहारा दे सके। अपने पैरों को किसी स्टूल, कफ टेबल आदि पर रखें जिससे आपका शरीर बच्चे की तरफ आगे की तरफ झुककर न मुड़े। उसे अपने गोद में इस प्रकार पकड़ें की उसका चेहरा पेट और घुटने आप की तरफ मुखातिभ हों यानी सीधे आपके सामने हों । उसके नीचे के हाथ अपने हाथों में ले लें। अगर शिशु आपके दाहिने स्तन का पान कर रहा हो तो उसका सर अपने दाहिने हाथ को मोड़कर रखें अपने हस्त प्रकोष्ठ को शिशु के पीठ के नीचे फैलाएं और उसके गर्दन को सहारा दें।  यह सुनिश्चित कर लें की शिशु के घुटने और शरीर आप की तरफ क्षैतिज स्थिति में हों और उसके घुटने आपके बाएं वक्ष के नीचे होने चाहिए। किसके लिए उपयुक्त : [tags_all_in_one number="20" smallest="12" largest="24" unit="px" separator="" orderby="name" order="asc" post="true"]

Loading...
loading...

2 thoughts on “स्तनपान के लिए सही मुद्रा – Best Pose for Breastfeeding

  1. very good matter, भाई जी सादर प्रणाम
    अच्छी जानकारियों वाला ब्लाग है आपका स्तनपान के लिए ली जानेे वाली सावधानियाँ वास्तव में किसी भी नारी के लिए ये जानकारियाँ अति आवश्यक हैं। धन्यवाद आपके अपने ब्लाग http://ayurvedlight.blogspot.in/ पर आने के लिए एक बार पुनः धन्यवाद।
    एक बार आपके सभी पाठको को आमंत्रित करता हूँ आपने ब्लाग पर http://ayurvedlight.blogspot.in/व http://ayurvedlight1.blogspot.in/ पर आने के लिए कोशिश करुँगा कि मेरे लेखन से पाठकों में आयुर्वेद के प्रति जागरुकता आए और पाठक बार बार इस ब्लाग पर अपनी पहुँच बनाऐ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *